यह है Team India को जीत दिलाने वाले 8 हीरो

0
29

Test Series Winner Team India – पास में चौक की टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया ने जीत हासिल कर ली है। आपको बता दे कि पांच मैचों के इस टेस्ट सीरीज में पहला मैच बुरी तरीके से हारने के बाद में, टीम इंडिया ने इस तरह से कम बैक किया। इसके बारे में इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने सोचा नहीं था। कम बैक इस तरह से था कि पूरी इंग्लैंड टीम को बिखेर कर रख दिया गया।

टीम इंडिया के इस शानदार जीत के पीछे टीम टीम इंडिया के एक दो खिलाड़ी न होकर टीम इंडिया के पूरे 8 ऐसे हीरो है, जिन्होंने अपना पूरा योगदान दिया। टीम इंडिया को इस टेस्ट सीरीज को जीतने के लिए, आज हम उन्हीं के बारे में बात करने वाले हैं और उन्होंने योगदान किस तरीके से दिया, उसके बारे में भी पूरी डिटेल में हम आपको बताने वाले हैं।

तो अगर आप भी जानना चाहते हो कि इस पांच में चौकी टेस्ट सीरीज में वह कौन से नो हीरो थे, जिसकी बदौलत आज टीम इंडिया इस टेस्ट सीरीज को जीत पाई है।

यह है Team India को जीत दिलाने वाले 8 हीरो

टीम इंडिया को इस टेस्ट सीरीज को जिताने में सबसे ज्यादा योगदान है इन 8 सितारों का

वैसे तो टीम इंडिया के अच्छे प्रदर्शन के चलते टीम इंडिया ने इस टेस्ट सीरीज को अपने नाम कर लिया है, लेकिन यह सीरीज इसलिए भी खास हो जाती है, क्योंकि इसमें भारत के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली सम्मिलित नहीं थे। आपको बता दे कि इसके अलावा भी मोहम्मद शमी भी मैच में नहीं थे।

जिसके चलते यह कहा जा रहा था कि भारत ये टेस्ट सीरीज मैच नहीं जीतेगा, लेकिन रोहित शर्मा की कप्तानी में शानदार जीत के साथ ऐसा कर दिखाया है जैसा पहले कभी नहीं देखने को मिला था। ऐसे में भारत में पहला मैच हारने के बाद में भी कम बैक करते हुए, चार मैच लगातार जीत कर इस 5 मैचों की टेस्ट सीरीज को अपने नाम कर लिया है। जिसमें से बहुत सारे मैच रोमांचक देखने को मिले।

टीम इंडिया के एक नहीं सभी खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया जिसके चलते भारत ने इस टेस्ट सीरीज को अपने नाम कर लिया है। कौन है वह 8 सितारे चलिए जानते हैं उनके बारे में

1.यशस्वी जयसवाल

अगर इस टेस्ट सीरीज में रन मशीन किसी को कहा जाएगा, तो वह सिर्फ यशस्वी जयसवाल है। उन्होंने रनों की छड़ी लगा दी थी। यशस्वी जायसवाल ने टेस्ट सीरीज में तीन हाफ सेंचुरी और दो डबल सेंचुरी की बदौलत 712 रनों का शानदार साथ भारतीय टीम को दिया। जिसकी बदौलत उन्हें किसी भी मैच में मैन ऑफ द मैच का टोकरी साहब नहीं मिला, लेकिन मैन ऑफ द सीरीज का खिताब जीतने में वह कामयाब रहे।

कहा जा सकता है कि यह पूरी टेस्ट सीरीज उन्हीं के नाम रही। यशस्वी जायसवाल के पावर तोड़ बल्लेबाजी को देखते हुए, यह कहा जा सकता है कि भारत के पास अब एक ऐसा ओपनर है जिसका भारत को लंबे समय से इंतजार था।

2. शुभ्मन गिल

अगर शुभमन गिल को भी इस लिस्ट में शामिल किया जाए तो गलत नहीं होगा। आपको बता दे कि इस टेस्ट सीरीज में सुभमन गिल के बल्ले से 452 रनों की शानदार पारी आई। जिसमें उन्होंने दो हाफ सेंचुरी और दो सेंचुरी लगाई। इस टेस्ट सीरीज में वह तीन नंबर पर खेलकर एक अच्छा संदेश लोगों के लिए दे दिया है और टीम इंडिया के लिए तीन नंबर पर खेलने वालों की समस्या को भी समाधान सरल बनाने में मदद किया।

हालांकि इस टेस्ट सीरीज की शुरुआत में उनका अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा, लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ते रहा उनका प्रदर्शन भी अच्छे से अच्छा होता रहा।

3. रोहित शर्मा

रोहित शर्मा इस टेस्ट सीरीज मैच के सबसे बढ़िया खिलाड़ियों में से एक है। अगर इनको एक नंबर पर भी रखा जाता तो कोई गलत नहीं होता।
क्योंकि इस टेस्ट सीरीज में रोहित शर्मा का इतना अच्छा प्रदर्शन रहा है कि इसके बारे में वर्णन किया ही नहीं जा सकता।

कप्तान रोहित शर्मा ने इस सीरीज में अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन किया, जिसके चलते उनके बल्ले की ही तारीफ नहीं बल्कि लोगों ने स्टेम्प माइक से आने वाली उनकी शानदार और मजेदार आवाज को भी काफी ज्यादा पसंद किया।

आपको बता दे कि इस पांच मैचों की टेस्ट सीरीज मैच में रोहित शर्मा ने अपने बल्ले से 400 रन का शानदार प्रदर्शन दिखाया। जिसमें उनकी दो सेंचुरी और एक हाफ सेंचुरी भी शामिल है।

4. जसप्रीत बुमराह

इस मैच के हीरो में जसप्रीत बुमराह का भी नाम शामिल है, क्योंकि जसप्रीत बुमराह ने इंडिया के लिए वह किया, जिसकी इंडिया को जरूरत थी। दरअसल पहला मैच हारने के बाद में टीम इंडिया का कम बैक जसप्रीत बुमराह ने हीं कराया।

पहले ही मैच में उन्होंने 6 विकेट चटका लिए, जिसके चलते इंग्लैंड के बल्लेबाजों की हालत खराब हो गई और वह आने वालों मैचों में अच्छा प्रदर्शन कर ही नहीं पाए। दरअसल इस टेस्ट सीरीज मैच में जसप्रीत बुमराह ने कुल 9 विकेट लिए और उनकी शानदार अटैकिंग बोलिंग ने टीम इंडिया को एक मजबूती प्रदान की।

5. रविचंद्रन अश्विन

टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा सफल कोई गेंदबाज है तो वह है रविचंद्र अश्विन, जिसको भारतीय क्रिकेट के फैन अश्विन अन्ना के नाम से जानते हैं।
इस टेस्ट सीरीज में उन्होंने अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन किया, जिसके चलते उन्होंने कई नए रिकॉर्ड भी बनाए हैं। आपको बता दे कि टेस्ट सीरीज में अश्विन के नाम 26 विकेट है।

इसी टेस्ट सीरीज में उन्होंने अपना सुबह टेस्ट मैच भी खेला। उनका प्रदर्शन इतना शानदार था की पूरी इंग्लैंड टीम के उन्होंने नाक में दम करके रखा था।

6. कुलदीप यादव

इस पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में कुलदीप यादव का प्रदर्शन काबिले तारीफ रहा। उन्होंने पहला टेस्ट मैच नहीं खेला था। जिसका खामियाजा टीम इंडिया को भुगतना पड़ा और पहले ही मैच टीम इंडिया हार गई थी।
लेकिन अगले ही मैच में उनको मौका दिया गया और उन्होंने अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन करके इस पूरी टेस्ट सीरीज में कुलदीप यादव ने दिखा दिया कि कुलदीप यादव आखिर कुलदीप यादव है और उन्होंने ऐसा प्रदर्शन किया कि लोग देखते ही रह गए।

7. रविंद्र जडेजा

रविंद्र जडेजा की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। वह एक ऐसे खिलाड़ी है, जो हर एक सीरीज में अपना दमखम दिखाते हैं और यह जताते हैं कि टीम इंडिया के लिए वह कितने जरूरी खिलाड़ी है।
उन्होंने न सिर्फ बल्ले से दम खम दिखाई बल्कि अपनी सुपरहिट बोलिंग से भी इंग्लैंड के बल्लेबाजों को परेशान किया।

इस पूरी टेस्ट सीरीज में उन्होंने 332 रन बनाए और 19 विकेट लिए, जिसके चलते ही उनको इस लिस्ट में शामिल किया गया है। आपको बता दे कि इस टेस्ट सीरीज में वह इंसर्ट भी हो गए थे। जिसके चलते उनको एक में से बाहर भी रखा गया।

8. ध्रुव जुरेल

ऋषभ पंत की गैर मौजूदगी में धुव्र जूरेल को मौका दिया गया और उन्होंने अपना अच्छा प्रदर्शन किया। दरअसल टीम इंडिया को एक ऐसे खिलाड़ी की जरूरत थी जो ऋषभ पंत की तरह ही अच्छी बल्लेबाजी कर सके और अच्छी विकेट कीपिंग भी कर पाए। ऋषभ पंत की गैर मौजूदगी में उनका जो मौका मिला, उस मौके को उन्होंने गवाया नहीं और मौके पर चौका मार दिया और उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देखने को मिला।

इस टेस्ट सीरीज मैच में उनके डेब्यू मैच, जो राजकोट में खेला गया उनमें उनका शानदार प्रदर्शन रहा और उनके अपने डेब्यू मैच में ही शानदार प्रदर्शन करते हुए 46 रन बनाए। इसके अलावा अगले मैच में उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए, 90 रनों की शानदार पारी खेली। जिसकी बदौलत यह कहा जा सकता है कि आने वाले टेस्ट सीरीज मैच में उनकी जगह पक्की हो गई है।

निष्कर्ष – यह है Team India को जीत दिलाने वाले 8 हीरो

तो यह थे उन 8 खिलाड़ियों के नाम, जिन्होंने इस टेस्ट सीरीज मैच में अपना पूरा दमखम दिखाया और इन्हीं के बदौलत टीम इंडिया इस टेस्ट सीरीज मैच को जीत पाई है। ऐसा भी नहीं है कि सिर्फ यही वह लोग थे जिसके चलते टीम इंडिया ने इस सीरीज को अपने नाम किया है।

इनके अलावा भी बहुत सारे खिलाड़ियों ने अपना सर्वोत्तम योगदान दिया और पूरी टीम के सहयोग की वजह से ही टेस्ट सीरीज मैच को टीम इंडिया जीत पाई है। अगर किसी खिलाड़ी का नाम लेना हम भूल गए हैं तो आप कमेंट करके उस खिलाड़ी के बारे में बता सकते हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here