RCB Vs RR – विराट कोहली का शतक भी नहीं जीता पाया RCB को

RCB Vs RR – IPL 2024 का 19वा मैच सवाई मानसिंह स्टेडियम जयपुर में खेला गया। इस रोचक मुकाबले में RCB को हराकर RR 6 विकेट से जीत गई। इस मुकाबले में देखा जा रहा था कि RCB जीतेगी लेकिन RR के बल्लेबाजों ने और खास करके बॉलर्स ने यह बता दिया कि राजस्थान में आकर राजस्थान रॉयल्स को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।

हालांकि RCB की तरफ से खेलते हुए विराट कोहली ने शतक भी लगाया लेकिन उनका शतक किसी काम नहीं आया और RR ने यह बाजी मार ली। आज की इस ताजा रिपोर्ट में हम आपको बताएंगे कि RR यह मैच क्यों जीत गई और RCB की तरफ से विराट कोहली के शतक मारने के बावजूद भी RCB कौन सी वजह से यह मैच हार गई।

RCB Vs RR - विराट कोहली का शतक भी नहीं जीता पाया RCB को

RCB Vs RR – का टॉस की भूमिका क्या रही?

RCB VS RR के बीच जब टॉस किया गया, तो RR ने टॉस जीत लिया। RR के कप्तान संजू सैमसन ने कहा कि वह पहले गेंदबाजी करना पसंद करेंगे और उन्होंने पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। RR के द्वारा यह लिया गया निर्णय उनके पक्ष में ही साबित हुआ क्योंकि उनको पता था कि उनके पास ऐसे बैट्समैन है जो किसी भी बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने में सक्षम है।

ऐसे में उन्होंने पहले बल्लेबाजी ना करते हुए पहले बॉलिंग करने का फैसला लिया और यह फैसला उनके हक में ही साबित हुआ।

RCB की धीमी शुरुआत

RCB जब पहले बल्लेबाजी करने उतरी तब विराट कोहली के साथ फाफ डु प्लेसिस अच्छे लह में नजर आ रहे थे और दोनों ने मिलकर अच्छी खासी साझेदारी भी पूरी कर ली थी। विराट कोहली का अर्धशतक भी हो चुका था पर एक कमी बल्लेबाजी में देखने को मिल रही थी कि दोनों बल्लेबाज काफी धीरे खेल रहे थे। जिसकी वजह से उनकी रन रेट बढ़ ही नहीं रही थी।

हालांकि विराट कोहली और फाफ डु प्लेसिस ने मिलकर 125 रनों की साझेदारी भी पूरी कर ली थी। लेकिन काफी ज्यादा धीरे खेलने की वजह से बॉल कम बची थी। जिनमें उनको अपनी टारगेट को और ज्यादा बढ़ाना था। मैच देखने वाला हर एक दर्शक यह कह रहा था कि RR को भले ही कोई विकेट ना मिल रहा हो, लेकिन उन्होंने रनों पर अंकुश लगा रखा है।

जिससे RR को कोई नुकसान नहीं हो रहा था। क्योंकि रन बहुत कम बने थे और बॉल बहुत ज्यादा खेली जा चुकी थी ।

विराट कोहली का शतक

इस मैच के पहले ही पारी में विराट कोहली ने अपना अच्छा प्रदर्शन करते हुए सतक कंप्लीट कर लिया था। विराट कोहली ने नाबार्ड पारी खेलते हुए 72 बोलो में 113 रन बनाए। जिनमें उनके 4 छक्के और 12 चौके शामिल थे। विराट को इस तरीके से बल्लेबाजी करते हुए देखकर विराट कोहली के हर एक चाहने वाले के दिल को सुकून जरूर मिला होगा।

लेकिन कहीं ना कहीं विराट कोहली के फैन को भी पता था कि विराट कोहली के शतक आने के साथ-साथ बाकी जो प्लेयर थे, उन्होंने विराट का साथ नहीं दिया जिसके चलते उनका शतक थोड़ा फीका नजर आने लगा।

RR के लिए 183 का छोटा लक्ष्य?

वैसे तो कहा जा सकता है कि RCB ने 183 रन का एक शानदार लक्ष्य RR के सामने रखा था लेकिन इसको सिर्फ अच्छा ही कहा जा सकता है।
अगर आपको IPL के इस मैच को जितना है तो आपको बहुत अच्छा स्कोर बनाना होगा और सामने वाली टीम को बहुत अच्छा लक्ष्य देना होगा, तभी आप जीत सकते हो।

अगर आपके सामने RR है तो 186 रन का लक्ष्य कोई बड़ा लक्ष्य नहीं होता है क्योंकि RR ने IPL 2024 में जिस तरह की बल्लेबाजी की है। उस तरीके की बल्लेबाजी के सामने 186 रन का लक्ष्य बड़ा लक्ष्य नहीं था। इसको एक समानजनक स्कोर ही कहा जा सकता है। जीतने वाले लक्षण कहीं नजर नहीं आ रहे थे।

यशस्वी जयसवाल का विकेट

जब यशस्वी जायसवाल ने सिर्फ दो बोल खेल कर अपना कैच मैक्सवेल को पकड़ा दिया था। तब ऐसा लगा था कि RR यह मैच नहीं जीत पाएगी क्योंकि यशस्वी जयसवाल एक बेहतरीन खिलाड़ी है और उनको जीरो रन पर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया जाए तो आपकी मैच में पकड़ मजबूत हो जाती है।

जोश बटलर का छूटा कैच

RR को पहले ही एक झटका लग चुका था। उसके बाद में बटलर छह बॉल पर छह रन बनाकर खेल रहे थे, ऐसे में उन्होंने एक शॉट ऐसा लगा जिस पर कैच हो सकता था। लेकिन कैमरून ग्रीन वह कैच नहीं पकड़ पाए और जोस बटलर को एक जीवनदान मिल चुका था।

हालांकि यह कैच थोड़ा मुश्किल था, लेकिन इस तरह के कैच मैच में मुश्किल कैच पकड़कर ही आप मैच को अपनी तरफ ले सकते हो। यह मौका आपने गवा दिया और इसके बाद में जोस बटलर की जो आंधी आई वह आप लोगों ने खुद देखी होगी।

विराट कोहली ने छोड़ा कैच

संजू सैमसंन और जोस बटलर बहुत अच्छा खेल रहे थे। ऐसे में संजू सैमसंन ने एक गेंद को हिट किया, जो लगभग विराट कोहली के हाथों के पास से गुजर गई। इस तरीके की कैच विराट कोहली आसानी से ले लेते हैं लेकिन पता नहीं कैसे विराट कोहली ने यह कैच ड्रॉप कर दिया।

जिसके चलते RCB को बहुत बड़ा नुकसान देखने को मिला और संजू सैमसन की एक ताबड़तोड़ बल्लेबाजी लोगों के सामने आई।

संजू सैमसंन के ताबड़तोड़ 69 रन

इस IPL में संजू सैमसंन अपना बहुत अच्छा प्रदर्शन लोगों को दिखा रहे हैं ऐसे में RCB VS RR के बीच में खेला गया। यह मुकाबला भी संजू सैमसंन के पक्ष में ही आया क्योंकि संजू सैमसंन ने 42 गेंद में 69 रन बना दिए थे। उनके बल्ले से 2 छक्के और 8 चौके लोगों को देखने को मिले।

इन की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की वजह से ही RR यह मुकाबला जीत पाई लेकिन यह भी आपको सोचना होगा कि किसी एक प्लेयर की वजह से मैच को नहीं जीता जा सकता।

जोस बटलर का शानदार शतक

इस मैच के बेहतरीन खिलाड़ी रहे जोस बटलर ने अपना शतक कंप्लीट कर लिया। उन्होंने 58 गेंद में 100 रन बनाकर एक कमाल की पारी राजस्थान रॉयल के लिए खेली।जोस बटलर की शतकीय पारी में 4 छक्के और 9 चौके शामिल थे। जोस बटलर की इसी धमाकेदार पारी की वजह से RR ने यह लगातार अपनी चौथी जीत दर्ज की।

जोस बटलर का यह शतक इसलिए भी याद रखा जाएगा क्योंकि एक वक्त ऐसा आया था,जब जोस बटलर ने अपनी शतक को न बनाकर टीम की जीत को सबसे आगे रखा और उन्होंने पहले जीत को सुनिश्चित किया और जब जीतने के लिए एक रन की जरूरत थी,तब उन्होंने छक्का लगाकर अपना शतक कंप्लीट किया।

यह भी पढ़ें :-

निष्कर्ष – RCB Vs RR – विराट कोहली का शतक भी नहीं जीता पाया RCB को

यह मुकाबला काफी ज्यादा लाजवाब रहा जब RCB की तरफ से विराट कोहली ने शतक लगा लिया था। तो एक बार ऐसा लगा कि RCB यह मैच जीत जाएगी, लेकिन किसी को क्या पता था कि जोस बटलर और संजू सैमसंन का ऐसा तूफान आएगा कि जिस तूफान में RCB की पूरी टीम उड़ जाएगी। जब RCB का गुजरात के साथ मुकाबला था।

तब भी विराट कोहली ने अपना शतक बनाया था और उस मैच में भी गुजरात के ही बल्लेबाज शुभमन गिल ने शतक लगा दिया था। और विराट कोहली की टीम को हार का सामना करना पड़ा था। इस मैच में भी विराट कोहली की शतक आने के बाद में जोश बटलर ने शतक बनाकर RR को जीत दिला दी और RCB को एक करारी हार का सामना करना पड़ा।
बाकि इस मैच के बारे में आप लोगों को क्या लगता है? कमेंट में कमेंट करके बता सकते हो।

Leave a comment