Lok Sabha Election: जानिए क्यों पवन सिंह ने टिकट मिलने के बाद वापस लिया अपना नाम?

0
38

Lok Sabha Election 2024 : जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भारतीय जनता पार्टी यानी भाजपा ने 2 मार्च 2024 को अपने लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की घोषणा की थी। इन 195 उम्मीदवारों के नाम में एक नाम था पवन सिंह, आपको बता दे कि पवन सिंह भोजपुरी सिनेमा जगत के जाने-माने और काफी प्रचलित एक्टर है।

भाजपा ने पश्चिम बंगाल के आसनसोल सीट से इनका टिकट दिया था, लेकिन पवन सिंह ने भाजपा का शुक्रिया अदा करते हुए टिकट लेने से मना कर दिया। ऐसे में आप लोगों के मन में यह सवाल आ सकता है कि आखिरकार पवन सिंह ने टिकट मिलने के बाद अपना नाम वापस क्यों ले लिया। इसके पीछे वह कौन सी वजह थी जिसके चलते पवन सिंह को मजबूरन अपना नाम वापस लेना पड़ा। जानेंगे इस पूरी रिपोर्ट में।

Lok Sabha Election

भाजपा ने क्यों दिया पवन सिंह को टिकट?

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि 2 मार्च 2024 को भाजपा की तरफ से 195 उम्मीदवारों की घोषणा की गई थी और उसमें पवन सिंह का भी नाम था। आपको बता दे कि पश्चिम बंगाल के आसनसोल सीट से पवन सिंह को टिकट दी जा रही थी और पवन सिंह ने टिकट मिलने के बाद अपना नाम वापस ले लिया है।

ऐसे में सबसे पहले आपको यह बता दे कि पवन सिंह को टिकट दिया ही क्यों गया था। आप लोगों को बता दे कि पवन सिंह एक जानी-मानी हस्ती है और भोजपुरी जगत में उनका काफी सम्मान है और वह काफी ज्यादा पापुलर एक्टर है।
ऐसे में पश्चिम बंगाल के आसनसोल सीट से उनका जीतना निश्चित था और भाजपा के ताजा सर्वे में यह स्पष्ट हो गया था कि अगर पश्चिम बंगाल के आसनसोल सीट से पवन सिंह को टिकट मिलती है। तो इस क्षेत्र में उनके जीतने के पूरे पूरे आसार नजर आ रहे थे।

ऐसे में पवन सिंह के अलावा कोई दूसरा चेहरा नहीं जो आसानी से इस क्षेत्र में भाजपा को जीत दिला सके। ऐसे में भाजपा ने पवन सिंह को ही टिकट देना जरूरी समझा।

पवन सिंह ने टिकट मिलने के बाद अपना नाम वापस क्यों लिया?

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भाजपा के द्वारा पवन सिंह को टिकट देने के बाद में, उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। यह मामला उतना सरल नहीं है, जितना दिखाई दे रहा है। इसके पीछे एक बहुत बड़ी वजह है जिसके चलते पवन सिंह ने ऐसा किया है। वह कौन सी वजह है चलिए हम एक-एक करके जानते हैं।

पवन सिंह के गाने :

पवन सिंह के द्वारा टिकट मिलने के बाद अपना नाम वापस लेने की सबसे पहले और सबसे बड़ी वजह है उनके गाने, दरअसल पवन सिंह ने पश्चिम बंगाल और महिलाओं को लेकर ऐसे ऐसे गाने गाए हैं जिसके चलते हमेशा वह निशाने पर रहे हैं।

उनके गाने इतना बवाल पैदा कर सकते थे जिसकी वजह से चाहे पवन सिंह वाली सीट बीजेपी जीत जाए लेकिन पश्चिम बंगाल की बाकी सीटों को हरवाने की वज़ह पवन सिंह को दी गई टिकट हो सकती थी।

कार्यकर्ताओं का विरोध :

इसके अलावा भाजपा के कार्यकर्ताओं में भी इसका विरोध देखा जा रहा था कि पवन सिंह को टिकट न दी जाए और पवन सिंह ने खुद यह देखा और उन्होंने खुद ही अपना नाम वापस ले लिया।

अन्य कारण :

इसके अलावा भी बहुत सारे ऐसे कारण है जिसके चलते पवन सिंह ने अपना नाम वापस ले लिया। दरअसल पवन सिंह के गाने ऐसे थे जिनमें महिलाओं के प्रति अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया था और बंगाल के बारे में भी अच्छा नहीं कहा गया था।

ऐसे में पवन सिंह को टिकट मिलने के बाद में पीएमसी के द्वारा इसका विरोध किया जा सकता था। जिसके चलते भाजपा को पश्चिम बंगाल सहित अन्य राज्यों में भी इसका असर देखने को मिल सकता था।

ऐसे में नारी शक्ति करण को मजबूत बनाने के लिए और नारी शक्ति करण के मुद्दे को मजबूत बनाने के लिए पवन सिंह को टिकट मिलने के बाद में भी अपना नाम वापस लेना पड़ा।

निष्कर्ष – Lok Sabha Election: जानिए क्यों पवन सिंह ने टिकट मिलने के बाद वापस लिया अपना नाम?

आज की यह ताजा रिपोर्ट आपको कैसी लगी। आप हमें कमेंट करके बता सकते हो,बाकी आपको पूरी जानकारी के साथ हमने बता दिया है कि आखिरकार पवन सिंह को पश्चिम बंगाल के उस्मान की सीट मिलने के बाद में भी पवन सिंह ने अपना नाम वापस क्यों लिया? इसके पीछे के कारण क्या थे? और क्या वजह रही कि भाजपा ने पवन सिंह को टिकट दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here