MI Vs CSK – रोहित और धोनी दोनों ने दिखा दिया कि क्यों कहते हैं लोग उन्हे लीजेंड

MI VS CSK – IPL 2024 का 29वां मैच MI VS CSK के बीच वानखेड़े स्टेडियम मुंबई में खेला गया। इस महा मुकाबले में रोहित शर्मा और धोनी दोनों की बैटिंग देखने को मिली। जिसमें धोनी ने कमाल करके दिखाया और रोहित शर्मा ने भी अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन करके शतक बना दिया। मैच इतना कमाल का हुआ कि दर्शक जो चाहते थे वही देखने को मिला।

पहले दर्शक चाहते थे कि CSK मैच जीत जाए और उसके बाद में दर्शक यह चाहते थे कि रोहित शर्मा अच्छा प्रदर्शन करें। यह सब कुछ इस मैच में देखने को मिला और धोनी की टीम मैच जीत भी गई और इसका पूरा श्रेय धोनी को ही दिया जाता है। रोहित शर्मा ने अपनी टीम को संभालते हुए अपना शतक कंप्लीट किया फिर भी रोहित शर्मा की टीम हार्दिक पांड्या की कप्तानी में जीत नहीं पाई।

आज के इस ताजा रिपोर्ट में हम आपको बताएंगे MI VS CSK का पूरा किस्सा अगर आपको जानना है तो इस ताजा रिपोर्ट के साथ बने रहिए।

MI Vs CSK - रोहित और धोनी दोनों ने दिखा दिया कि क्यों कहते हैं लोग उन्हे लीजेंड

MI Vs CSK – की टॉस की भूमिका क्या रही?

MI VS CSK के मैच में MI ने पहले टॉस जीत लिया और टॉस जीतने के साथ लगभग उनकी जीत निश्चित हो गई थी। लेकिन होने को कुछ और ही मंजूर था टॉस जीतने के बाद में MI ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया और उनका यह फैसला सही भी साबित हो जाता, अगर गेम की आखिर मे महेंद्र सिंह धोनी खेलने नहीं आते।

साथ में महेंद्र सिंह धोनी के अलावा भी MI के किसी भी बल्लेबाज ने रोहित शर्मा का साथ नहीं दिया, जिसके चलते टॉस जीतने के बाद में भी MI की टीम यह मुकाबला नहीं जीत पाई और 20 रनों से MI यह मैच हार गई।

ऋतुराज गायकवाड़ की कप्तानी पारी

CSK की टीम जब बल्लेबाजी करने उतरी तब CSK की टीम ऐसी लग रही थी जैसे कुछ कर ही नहीं पाएगी लेकिन ऋतुराज गायकवाड़ ने कप्तानी पारी खेलते हुए यह एहसास दिला दिया था कि उनको कप्तान इसलिए ही नहीं बनाया गया है उनमें काबिलियत भी है।

आपको बता दें कि ऋतुराज गायकवाड़ ने CSK की पारी संभालते हुए 40 गेंद में 69 रन बनाए। उनकी शानदार पारी में 5 छक्के और 5 चौके भी शामिल थे। ऋतुराज गायकवाड़ ने CSK को एक अच्छी शुरुआत दे दी थी।

शिवम दुबे टूट पड़े MI के बॉलर पर

शिवम दुबे जब बैटिंग करने आए हैं तब ऐसा लग रहा था कि आज शिवम दुबे कुछ अनोखा करके दिखाने वाले हैं। लोगों को उन्होंने बिल्कुल भी नाराज नहीं किया और इसके लिए शिवम दुबे को जाना जाता है। वही गेम आज शिवम दुबे ने लोगों को दिखाया आपको बता दे कि शिवम दुबे ने शिवम दुबे ने नॉट आउट रहते हुए 38 गेंद में 66 रन बनाए।

उनके इस पारी में 2 छक्के और 10 चौके शामिल थे। उनके अंदाज को देखते हुए लोग उनको दूसरा युवराज सिंह कह रहे हैं और इस तरह की की बल्लेबाजी देखते हुए यह कहना गलत भी नहीं होगा कि आने वाले समय में अगर युवराज सिंह की कमी को कोई पूरी कर सकता है तो वह शिवम दुबे ही है।

थाला फॉर ए रीजन

महेंद्र सिंह धोनी को एक फिनिशर के रूप में देखा जाता है और हर बार वह गेम में आते हैं और आखरी में गेम का रुख बदल देते हैं। ऐसे में आज के इस मुकाबले में भी वह आखरी में बल्लेबाजी करने आए जब गेम की सिर्फ 4 बॉल बाकी थी। बॉलिंग कर रहे थे हार्दिक पांड्या और बल्लेबाजी करने आए थे।

महेंद्र सिंह धोनी आखिरी के बोलो में उन्होंने 20 रन लगा दिए थे। उनकी इस पारी में 3 छक्के शामिल थे। आपको बता दे कि महेंद्र सिंह धोनी को ताला का ए रीजन इसलिए भी कहा जाता है क्योंकि वह आते हैं और गेम का रुख बदल कर चले जाते हैं।

आपको जानकर यह भी शास्त्री होगा कि MI ने 20 रनों से इस मैच को CSK के पलड़े में जाने दिया और महेंद्र सिंह धोनी ने सिर्फ 20 रन ही बनाए थे। लोगों का तो यही कहना है कि महेंद्र सिंह धोनी ही वह थे जिन्होंने मैच का रूप बदल दिया।

इशान किशन और तिलक वर्मा की अच्छी बल्लेबाजी

MI की तरफ से बल्लेबाजी करने उतरे ईशान किशन और रोहित शर्मा ने शुरुआत में बहुत अच्छी शुरुआत दी और उनके इस शुरुआत के चलते यह लग रहा था कि MI यह मैच आसानी से जीत जाएगी। क्योंकि एक तरफ से रोहित शर्मा अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे, तो दूसरी तरफ से ईशान किशन भी अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन कर रहे थे।

आपको बता दे कि लगभग सात ओवर कंप्लीट होने के बाद में रोहित शर्मा और अच्छी पार्टनरशिप प्राप्त कर लेते जिन्होंने 70 रन की एक शानदार पारी MI के लिए खेली इशान किशन 15 गेंद में 23 रन बनाकर पवेलियन को जा चुके थे। उनकी इस पारी में 1 छक्का और 3 चौके शामिल थे।

रोहित शर्मा और ईशान किशन ने वह काम कर दिया था, जो एक ओपनर को करना चाहिए। उसके बाद में रोहित शर्मा का साथ देने इंडिया के मिस्टर 360 आए थे यानी कि सूर्यकुमार यादव आए थे। लेकिन आज उनका “बल्ला बिल्कुल भी नहीं चला” जिसके चलते MI काफी प्रेशर में आ गई थी।

सूर्यकुमार यादव ने दो बोले खेली और पवेलियन की तरफ चल दिए क्योंकि उनको एक भी रन बनाने नहीं दिया गया था। उसके बाद में तिलक वर्मा ने आकर रोहित शर्मा के साथ एक अच्छी साझेदारी की जिसके चलते लगभग 14 ओवर पूरे होते-होते MI का स्कोर 130 के आसपास पहुंच गया था।

लेकिन मथीशा पथिराना ने तिलक वर्मा का विकेट लेकर MI के सपनों पर पानी फेर दिया था। तिलक वर्मा ने भी अपना सर्वोत्तम योगदान देकर MI के लिए 20 बॉल में 31 रन बनाए और उनकी इस पारी में 3 चौके शामिल थे।

रोहित शर्मा का शानदार शतक

रोहित शर्मा ने शुरुआत में अच्छी शुरुआत दी और आखिरी तक मैच में बने रहे। उनके इस योगदान के चलते ही एक सम्मान जनक हार MI को प्राप्त हुई। वरना ऐसा देखने को मिल रहा था कि CSK के बॉलर MI को बहुत बुरी तरीके से आज हरा देंगे।

क्योंकि रोहित शर्मा एक छोर पर डटे हुए थे और दूसरे छोर पर विकेट पर विकेट जा रहे थे। रोहित शर्मा का किसी ने भी साथ नहीं दिया जिसका खामियाजा MI को भुक्तना पड़ा और 20 रनों से MI हार गई। आपको बता दें कि रोहित शर्मा ने सिर्फ 63 गंदे खेली थी। उनके इस 63 गेंद में 105 रन आए।

उनकी इस शानदार पारी में 5 छक्के और 11 चौके शामिल थे। रोहित शर्मा ने IPL में 500 छक्के मारने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। और साथ में CSK के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी रोहित शर्मा बन गए हैं। रोहित शर्मा का इतना अच्छा प्रदर्शन रहा कि उसके प्रदर्शन को नकारा नहीं जा सकता।

यह कहना भी गलत नहीं होगा कि अगर रोहित शर्मा का साथ बाकी कोई दूसरा बल्लेबाज दे देता, तो आज CSK हार जाती। MI के खाते में एक और जीत आ जाती लेकिन रोहित शर्मा दूसरे छोर पर डटे रहे किसी भी बल्लेबाज ने उनके साथ नहीं दिया, जिसके चलते MI को हार का सामना करना पड़ा।

मथीशा पथिराना ने बिखर कर रख दिया MI को

मथीशा पथिराना एक ऐसे बॉलर बन गए हैं जिसका मुकाबला कोई दूसरा बॉलर नहीं कर सकता। आपको बता दें कि लोग सोशल मीडिया पर उन्हें दूसरा मलिंगा के नाम से पुकार रहे हैं। क्योंकि उनका प्रदर्शन इतना शानदार है और उनका बॉलिंग एक्शन भी खूब मलिंगा से मेल खाता है।

आपको बता दे कि इस मैच में मथीशा पथिराना ने ही CSK को मैच जिताया है। धोनी के बाद में अगर किसी को श्रय देना चाहिए तो मथीशा पथिराना को ही देना चाहिए। मैं तो यही कहूंगा कि धोनी से ज्यादा भी अगर किसी को श्रय देना चाहिए तो मथीशा पथिराना को ही देना चाहिए क्योंकि उनके इस शानदार बॉलिंग के चलते ही CSK यह मैच जीत पाई है।

MI VS CSK के बीच खेला गया यह मुकाबला मथीशा पथिराना की वजह से भी याद किया जाएगा, क्योंकि इस मुकाबले में मथीशा पथिराना ने पूरे चार ओवर कंप्लीट किए थे और उन्होंने सिर्फ 28 रन दिए थे। कमाल की बात यह रही कि उन्होंने इस मुकाबले में 4 विकेट अपने नाम किया।

पहले ईशान किशन उसके बाद में सूर्यकुमार यादव और उसके बाद में तिलक वर्मा का विकेट उन्होंने अपने नाम किया और पिछले मैच के हीरो रहे रोमारियो शेफर्ड का भी विकेट मथीशा पथिराना के ही नाम रहा। आपको बता दे की मथीशा पथिराना ने जो विकेट लिए थे वह विकेट ऐसे विकट थे कि अगर समय पर नहीं लिए गए होते तो मैच कब का MI जीत गई होती।

पहले स्थान पर ईशान किशन का विकेट लेकर MI की रफ्तार पर ब्रेक लगाया। उसके बाद में सूर्यकुमार यादव को आते ही पवेलियन की तरफ वापस रवाना करवा दिया वरना सूर्यकुमार यादव किस तरीके के बल्लेबाज है यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है।

तिलक वर्मा भी रोहित शर्मा का एक अच्छा साथ दे रहे थे और अगर वह भी मैच में रहते तो मैच का रुख कोई और होता। उसके बाद में पिछले मैच के सुपरस्टार रहे रोमारियो शेफर्ड को भी उन्होंने बोल्ड करके यह मैच CSK के पाले में दे दिया था।

अब इस तरह की बल्लेबाजी देखते हुए अगर कोई आपसे कह कि इस मैच के रियल हीरो मथीशा पथिराना ही है, तो इसमें किसी प्रकार का अतिशयोक्ति नजर नहीं आती।

यह भी पढ़ें :-

निष्कर्ष – MI Vs CSK – रोहित और धोनी दोनों ने दिखा दिया कि क्यों कहते हैं लोग उन्हे लीजेंड

MI VS CSK के बीच में खेला गया यह मुकाबला एक ऐसा मुकाबला था, जिसमें लोगों को वही देखने को मिला जो लोग देखना चाहते थे। पहले महेंद्र सिंह धोनी की बैटिंग लोग देखना चाहते थे जो उनको देखने को मिली और साथ में महेंद्र सिंह धोनी के 4 बोलो में बनाए गए 20 रन भी काफी ज्यादा लोगों को पसंद आए।

उसके बाद में लोग रोहित शर्मा के बल्ले से एक शानदार पारी देखना चाहते थे। जिस पारी को रोहित शर्मा ने शतक लगाकर लोगों की चाहत को पूरा कर दिया। उसके बाद में CSK की जीत और MI की लोग हार देखना चाहते थे। वह भी लोगों को देखने को मिली।

कुल मिलाकर इस मैच में, मैच का रुख बदलने वाले तीन ही बंदे थे। पहले महेंद्र सिंह धोनी ने मैच को पलट कर रख दिया। उसके बाद में रोहित शर्मा ने अपनी शानदार पारी से मैच का रुख बदला लेकिन फिर से मथीशा पथिराना ने आकर मैच का पूरा इतिहास ही बदल कर रख दिया।

कुल मिलाकर यह मुकाबला काफी ज्यादा लाजवाब रहा। बाकी इस मुकाबले के बारे में आपका क्या विचार है आप हमें कमेंट करके बता सकते हो।

Leave a comment