CAA क्या है ? जिसकी इतनी चर्चा हो रही है भारत में?

0
26

11 मार्च को भारत सरकार के द्वारा पूरे भारतवर्ष में CAA लागू कर दिया गया है। जब से भारत सरकार ने इसकी जानकारी पब्लिक को प्रदान की है,तब से पूरे भारत में CAA को लेकर चर्चाएं तेज हो गई है। कुछ लोग इसके बारे में अच्छा बोल रहे हैं, तो कुछ लोग खुलकर इसका विरोध कर रहे हैं। ऐसे में आपको जानना जरूरी है कि आखिरकार यह का क्या है? जिसके भारत में इतनी चर्चा हो रही है।

पूरी जानकारी के साथ इस रिपोर्ट में हम आपको इसके बारे में कुछ और भी बातें बताएंगे। जिनके बारे में भी आपको जानना जरूरी है, तो अगर आप भी जानना चाहते हो। आखिरकार यह CAA क्या है? और भारत में इसकी जरूरत क्यों पड़ी?, तो इस पूरी रिपोर्ट के साथ बने रहिए। आज आपको CAA के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी।

CAA क्या है ? जिसकी इतनी चर्चा हो रही है भारत में?

क्या भारत में लागू हो गया CAA?

जी हां भारत में पूरी तरीके से CAA लागू हो गया है। भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने पूरे भारत को संबोधित करते हुए, यह जानकारी दी है कि भारत में CAA लागू हो गया है। भारतीय जनता पार्टी के द्वारा CAA की बात काफी लंबे समय से की जा रही है और आखिरकार CAA लागू हो ही गया।

आपको बता दे कि भारतीय गृह मंत्रालय ने इसके लिए ऑनलाइन पोर्टल भी शुरू कर दिया है और पाकिस्तान बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए हुए गैर मुस्लिम शरणार्थियों से भारत की नागरिकता प्राप्त करने के लिए आवेदन भी मांगे हैं।

आपको बता दें कि CAA से भारत में गैर मुस्लिम शरणार्थियों को फायदा होगा और उनको भारत की नागरिकता मिल सकेगी,लेकिन इसके लिए भी कुछ प्रावधान रखे गए हैं। जिसके तहत ही उनको नागरिकता मिल सकेगी। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि अब पूरी तरीके से भारत में CAA लागू हो गया है।

CAA क्या है?

आपको बता दे की CAA का पूरा नाम है सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट, CAA कानून के तहत भारत में आए हुए शरणार्थी, जो पाकिस्तान बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत में आए हुए हैं और उनका धर्म के आधार पर प्रताड़ना मिली है। अब उनको इस कानून के तहत भारत की नागरिकता मिल सकेगी।

आपको बता दे कि CAA कानून के तहत बांग्लादेश अफगानिस्तान और पाकिस्तान से आए हुए गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिल सकेगी। इसके लिए भारतीय के गृह मंत्रालय ने ऑनलाइन पोर्टल भी शुरू कर दिया है और लोगों से इसके लिए आवेदन भी करने के लिए बोला है।

अब आप समझ गए होंगे कि CAA एक ऐसा कानून है, जिसके तहत बांग्लादेश,पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए हुए गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दी जाएगी।

CAA का विरोध क्यों हो रहा है?

आपको बता दे कि जब भी CAA का जिक्र होता है, तो लोग इसका विरोध भी करना शुरू कर देते हैं। हालांकि बहुत सारे लोग इसका सपोर्ट भी कर रहे हैं। ऐसे में आपके मन में सवाल जरूर आया होगा कि आखिरकार लोग इसका विरोध क्यों कर रहे हैं? लोग इसका विरोध दो कारण से कर रहे हैं।

पहला कारण यह है कि लोगों का मानना है कि जब CAA लागू हो गया है, तो इससे भारत के नागरिकों को नुकसान होगा। नुकसान यह है कि भारत की जनसंख्या पहले से भी ज्यादा है और पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए हुए शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिल जाएगी।

जिससे भारत की जनसंख्या और भी बढ़ जाएगी और भारत के संसाधनों पर बहुत ज्यादा असर पड़ेगा। तो आप इसके विरोध का पहला कारण जान गए होंगे।

दूसरा कारण है इस कानून में मुस्लिम शरणार्थियों को शामिल न करना मुस्लिम शरणार्थियों को इस कानून में शामिल नहीं किया गया है। जिसके चलते साइन बाग में इसके लिए काफी बड़ी संख्या में लोगों ने एकत्रित होकर प्रदर्शन किया था। तो आप समझ गए होंगे कि कुल मिलाकर इसके दो बड़े कारण हैं। जिसके चलते इसका विरोध हो रहा है।

CAA क्या है ? जिसकी इतनी चर्चा हो रही है भारत में?

आज की पूरी ताजा रिपोर्ट में हमने आपको CAA के बारे में पूरी जानकारी दे दी है कि आखिरकार यह CAA क्या है? और भारत में इसकी चर्चा क्यों हो रही है? आपको बता दें कि 11 मार्च को ही भारत के गृह मंत्रालय ने इसकी पूरी जानकारी दे दी है। जिसके तहत CAA भारत में लागू कर दिया गया है। अब आपको इसके बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी।

अगर इससे जुड़ा हुआ कोई भी सवाल आपके मन में आता है। तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here